Gadar 2's Blockbuster Run Continues: Crosses Rs 300 Cr Mark

गदर 2 रीमेक के कारण पटना सिनेमाघर के पास कम तीव्रता वाले बम विस्फोट से अफरा-तफरी मच गई।

एक चौंकाने वाली घटना में, Sunny Deol and Amisha Patel अभिनीत बहुप्रतीक्षित फिल्म “Gadar 2” की स्क्रीनिंग के दौरान पटना थिएटर के बाहर अराजकता फैल गई। बॉलीवुड हंगामा की रिपोर्ट से पता चलता है कि सिनेमा के बाहर दो कम तीव्रता वाले बम फेंके गए, जिससे हंगामा मच गया लेकिन शुक्र है कि कोई हताहत नहीं हुआ।

बमों ने पटना थिएटर को निशाना बनाया(Bombs Target Patna Theatre)

“GADAR 2” की चल रही स्क्रीनिंग के दौरान एक चौंकाने वाली घटना घटी जब पटना के एक थिएटर के बाहर दो कम तीव्रता वाले बम फेंके गए। अराजकता के बावजूद, उपस्थित लोगों या स्टाफ सदस्यों में से किसी के घायल होने की सूचना नहीं है।

ब्लॉकबस्टर मूवी, अप्रत्याशित ड्रामा: अराजकता के बीच गदर 2 की सफलता(Blockbuster Movie, Unexpected Drama: Gadar 2’s Success Amidst Chaos)Gadar 2 की स्क्रीनिंग के दौरान पटना थिएटर के बाहर चौंकाने वाली घटना: दो बम फेंके गए, स्टाफ को धमकाया गया, किसी के घायल होने की खबर नहीं

फिल्म पर ध्यान केंद्रित करते हुए, “गदर 2” 11 अगस्त को रिलीज होने के बाद से ही हलचल पैदा कर रही है। 2001 की हिट “गदर: एक प्रेम कथा” का रीबूट, फिल्म में सनी देओल और अमीषा पटेल हैं। दर्शक और आलोचक समान रूप से इसकी प्रशंसा कर रहे हैं, जिससे बॉक्स ऑफिस पर इसकी बड़ी सफलता में योगदान मिला है। “गदर 2” ने अपने शुरुआती दिन में 39 करोड़ रुपये की प्रभावशाली कमाई की और 300 करोड़ रुपये के उल्लेखनीय आंकड़े के करीब पहुंच रही है।

जैसा कि अधिकारियों ने पटना थिएटर के बाहर हुई चौंकाने वाली घटना की जांच जारी रखी है, “गदर 2” बॉक्स ऑफिस पर एक चमकता सितारा बनी हुई है, जो देश भर के दर्शकों के दिलों को लुभा रही है।

डराने-धमकाने की रणनीति()

कथित तौर पर बम कांड के पीछे बदमाशों ने थिएटर के स्टाफ सदस्यों को डराने-धमकाने की भी कोशिश की. सिनेमा हॉल के मालिक ने खुलासा किया कि समस्या तब शुरू हुई जब व्यक्तियों को “GADAR 2″ के लिए फिल्म टिकटों की कालाबाजारी से लाभ कमाने का प्रयास करते हुए पकड़ा गया। सौभाग्य से, इन व्यक्तियों को अधिकारियों ने पकड़ लिया।

Owner Speaks Out: Defiance Against Wrongdoing

सिनेमा हॉल के मालिक सुमन सिन्हा ने इस घटना की पुष्टि की और धमकी के बावजूद कर्मचारियों के लचीलेपन पर प्रकाश डाला। उन्होंने यह सुनिश्चित करने के लिए थिएटर की प्रतिबद्धता पर जोर दिया कि प्रत्येक फिल्म देखने वाले को कालाबाजारी गतिविधियों का सहारा लिए बिना टिकट प्राप्त करने का उचित मौका मिले। डर के बावजूद, सिन्हा ने किसी भी गलत काम को विफल करने के लिए अपने कर्मचारियों के दृढ़ संकल्प की प्रशंसा की।

ग़लत इरादे: पुलिस कार्रवाई से हमलावर विफल(Misguided Intentions: Bombers Foiled by Police Action)

घटना के बारे में और जानकारी देते हुए मालिक ने खुलासा किया कि अपराधियों ने सिनेमा हॉल से दूर बम विस्फोट किया। ऐसा प्रतीत होता है कि उनका गलत इरादा सिनेमा को उनके अवैध अनुरोधों का पालन करने के लिए मजबूर कर रहा है। हालाँकि, मालिक ने दोहराया कि उनका प्रतिष्ठान किसी भी प्रकार की टिकट कालाबाजारी में शामिल होने से इनकार करता है। पुलिस के तुरंत हस्तक्षेप करने पर अपराधी मौके से भाग गए।

Gadar 2 पटना थिएटर के बाहर बम फेंकने का वाकया: क्या हुआ था?

1. घटना क्या थी, और क्या घातकता हुई?

पटना के एक थिएटर में “Gadar 2” मूवी की स्क्रीनिंग के दौरान एक अचानक घटना घटी, जिसमें दो न्यूनतम गति के बम फेंके गए। इस वाकये के बावजूद, भागीदारों या स्टाफ सदस्यों में कोई चोट नहीं हुई।

2. क्या स्थानीय कर्मचारियों को धमकाया गया था?

कथित रूप से, बम घटना के पीछे के आरोपियों ने थिएटर के स्थानीय कर्मचारियों को भी धमकाया था। थिएटर के मालिक ने खुलासा किया कि परेशानी तब शुरू हुई जब व्यक्तियों को “Gadar 2” के टिकटों को काला बाजार में बेचने की कोशिश करते हुए पकड़ लिया गया। भगवान की कृपा से, इन व्यक्तियों को अब गिरफ्तार कर लिया गया है।

3. क्या पटना थिएटर के मालिक ने वाकये की पुष्टि की?

थिएटर के मालिक, सुमन सिन्हा, ने इस घटना की पुष्टि की और स्थानीय कर्मचारियों की साहसीता को उजागर किया। उन्होंने थिएटर के विचार को सुनिश्चित किया कि हर दर्शक को टिकट मिले, बिना किसी काला बाजार के कार्यक्रम के सहायता से। डर के बावजूद, सिन्हा ने उनके स्टाफ की परिश्रमिता की प्रशंसा की और उनकी सहायता की गलत क्रियाओं के खिलाफ खड़े होने की दृढ़ता की।

4. धराशायी इरादे: पुलिस के कार्रवाई से आरोपियों की पूरी की गई योजना?

इस घटना के और अधिक अंदरूनी दृष्टिकोण को देखते हुए, मालिक ने बताया कि आरोपियों ने बम को थिएटर से दूर फेंका। उनका अभिशापित इरादा स्पष्ट रूप से यह था कि उन्हें थिएटर को अपनी अवैध यात्रियों के अनुरोधों के साथ सामर्थ्य दिखाने के लिए मजबूर किया जाए। हालांकि, मालिक ने दोहराया कि उनकी स्थापना किसी भी प्रकार के टिकट काला बाजार में शामिल होने की कोशिश नहीं करती है। आरोपी पुलिस की त्वरित कार्रवाई से जल्दी ही भाग गए।

  1. Also Read

5. धमाकेदार फिल्म, अप्रत्याशित हालचाल: “Gadar 2” की सफलता में घटना का प्रभाव?

मूवी की खुद में ध्यान देते हुए, “Gadar 2” का आगाज 11 अगस्त को हुआ था। 2001 में रिलीज हुई मूवी “Gadar: Ek Prem Katha” का नया रूप, इसमें सनी देओल और अमीषा पटेल की अदाकारी दिखाई दी। दर्शक और प्रशंसक दोनों ने इसे सराहा है, जिससे इसके बॉक्स ऑफिस पर शानदार प्रदर्शन की गई है। “Gadar 2” ने अपने खुले दिन में लगभग 39 करोड़ रुपये की कमाई की है और अब 300 करोड़ रुपये के क़रीब पहुँच रही है।

जबकि पुलिस घटना की जांच करती रहती है, “Gadar 2” बॉक्स ऑफिस पर एक तारा बने रहते हैं और देश भर में दर्शकों के दिलों को मोहित करते रहते हैं।

7 thoughts on “Gadar 2 की स्क्रीनिंग के दौरान पटना थिएटर के बाहर चौंकाने वाली घटना: दो बम फेंके गए, स्टाफ को धमकाया गया, किसी के घायल होने की खबर नहीं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *