भारत की डिजिटल रुपया क्रांति: e₹ वॉलेट के लिए आपकी मार्गदर्शिका

1 दिसंबर, 2022 को, भारतीय रिज़र्व बैंक ने भारतीय रुपये का डिजिटल रुपया संस्करण e₹ पेश किया।

डिजिटल रुपया क्या है और यह कैसे काम करता है?

e₹ को अपना डिजिटल वॉलेट समझें, जो बैंकों द्वारा जारी किया जाता है। यह आपके स्मार्टफ़ोन पर एक बैंक खाता रखने जैसा है। आप अपने नियमित बैंक खाते से इस वॉलेट में पैसे स्थानांतरित कर सकते हैं। यह त्वरित और सुरक्षित है, जिसमें लेनदेन तुरंत होता है।

डिजिटल रुपया UPI और अन्य भुगतान विधियों से कैसे भिन्न है?

e₹ स्वयं पैसा है, केवल भुगतान करने का एक तरीका नहीं। UPI और अन्य तरीके भुगतान करने के लिए हैं। e₹ का उपयोग 'खाते की इकाई' और 'मूल्य के भंडार' के रूप में भी किया जा सकता है, जिसका अर्थ है कि यह आपके पैसे का प्रतिनिधित्व और सुरक्षित रूप से रख सकता है।

डिजिटल रुपए का उपयोग कौन कर सकता है?

पहले पायलट में, केवल चुनिंदा ग्राहकों के समूह को ही e₹ आज़माने का मौका मिला। यह अभी के लिए एक विशेष क्लब की तरह है, लेकिन भविष्य में यह सभी के लिए उपलब्ध हो सकता है।

e₹ वॉलेट क्या है?

अपने e₹ वॉलेट को अपने वॉलेट का डिजिटल संस्करण समझें, लेकिन अधिक सुरक्षित। यदि आप अपना फोन खो देते हैं, तो आपका पैसा सुरक्षित रहता है क्योंकि आप उस तक पिन से पहुंच सकते हैं।

क्या आप किसी के बैंक खाते या UPI में e₹ ट्रांसफर कर सकते हैं?

नहीं, आप सीधे बैंक खाते या UPI पर e₹ नहीं भेज सकते। लेकिन चिंता न करें, आप जब चाहें इसे वापस अपने नियमित बैंक खाते में परिवर्तित कर सकते हैं।